Home » Full Form » Full Form of BPO (BPO का फुल फॉर्म) BPO क्या है?

Full Form of BPO (BPO का फुल फॉर्म) BPO क्या है?

दोस्तों आज का टॉपिक बहुत ही ज्यादा जानकारी भरा है जिसके बारे में हम सभी को जानना बहुत जरुरी है और वह टॉपिक Full Form of BPO है लेकिन दोस्तों अगर आपको Full Form of BPO पता है फिर भी ये आर्टिकल्स आपके लिए बहुत जानकारी भरा होने वाला है क्युकी आज हमलोग केवल BPO full form के बारे में ही नहीं पढ़ने वाले है इसके आलावा हम BPO क्या है? BPO के प्रकार, BPO कैसे करे, BPO और Call Center में क्या अंतर है, BPO की job कैसे मिलती है साथ ही BPO के बारे में बहुत कुछ।

Full Form of BPO (Full का फुल फॉर्म)

Full Form of BPO (BPO का फुल फॉर्म) BPO क्या है?

Full Form of BPO – “Business Process Outsourcing

BPO Full Form इन हिंदी – “बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग

BPO क्या है? (What Is BPO)

Business Process Outsourcing (BPO) एक प्रकार के ऐसी प्रक्रिया है जिसमे एक बिज़नेस या कम्पनी अपने कार्यो को किसी third पार्टी के द्वारा पूरा करवाती है उसे BPO कहते है।

दोस्तों आज के समय में BPO का बहुत महत्व है और आज के समय में सभी कंपनी या बिज़नेस अपने कार्यो को Outsourcing करती है। और BPO के द्वारा किसी भी कंपनी का एक बहुत बड़ा हिस्सा का काम किया जाता है जो किसी भी बिज़नेस के लिए बहुत जरुरी होता है।

सामान्य BPO में दो प्रकार की सेवा प्रदान की जाती है। 1 Back Office और 2 Front Office

  1. Back Office Outsourcing – BPO में आमतौर पर Back Office Outsourcing का कार्य Customer Billing, डेटा प्रबंधन, गुणवत्ता, और  अकाउंट का लेखा जोखा संभालता होता है।

2. Front Office Outsourcing -दोस्तों इसमें बिज़नेस से रिलेटेड जानकारी को customer या Client के पास पहुंचना और साथ ही Client की प्रॉब्लम को सुनने और उसके solution निकालने जैसे कार्य होते है। जैसे – कॉल करना या ईमेल करना।

Outsourcing क्या है? (What is Outsourcing)

जब भी कोई कंपनी अपने कार्यो को करने में योग्य न हो या वह कंपनी इस काम के लिए अलग से मशीनर या स्टॉफ के लिए ज्यादा पैसे नहीं देना चाहती है तो कोई भी कंपनी अपने कार्य को करने के लिए दूसरे कंपनी को दे देती है जिसके पास वह सभी कार्य सम्पन करने वाले साधन हो।

उदहारण जैसे – एक abc कंपनी है वह कपड़े का एक्सपोर्ट करती है और आज के डिजिटल समय में उसे एक Website बनाने की जरुरत है परन्तु उसे वेबसाइट बनाने नहीं आता है तो abc कंपनी किसी दूसरे Website बनाने वाले कंपनी को अपना Website बनाने के लिए दे देती है इसे ही Outsourcing कहते है।

BPO के कितने प्रकार होते है ?

जैसा की Business Process Outsourcing (BPO) में कम्पनी अपने कार्यो को दूसरे को करने के लिए देती है। Business Process Outsourcing (BPO) तीन प्रकार के होते है और इसे loction के आधार पर बाटा गया है।-

Offshore Outsourcing

Offshore Outsourcing मतलब जब एक कंपनी अपने कार्यो को पूरा लिए किसी भी विदेशी कंपनी या संगठन को काम में रख लेती है।

Nearshore outsourcing

जब कोई भी कंपनी अपने पड़ोसी देश (Neighbouring Countries) में स्थित कंपनी को Contract देती है उसे Nearshore outsourcing कहते है। जैसे – भारत में स्थित कंपनी अपने काम (Contract) को bangladesh में स्थित कंपनी देती है।

Onshore Outsourcing-

Onshore Outsourcing का मतलब जब कोई कंपनी एक ही देश में काम कर रही कंपनी के साथ Contract करती है परन्तु वह अलग अलग राज्य या शहर में हो उसे Onshore Outsourcing कहते है। उदहारण के लिए जैसे – बंगाल की एक कंपनी दिल्ली के कंपनी के कार्यो को Outsourcing कर रही है।

आप पढ़ रहे है – Full Form of BPO

Business Process Outsourcing के फायदे

1 .अगर कोई भी कंपनी अपने कार्यो को Outsource करती है तो इसमें सबसे बड़ा फायदा Cost Effective होता है क्युकी अगर कोई भी कंपनी अपने कार्यो को Outsource करने के बदले खुद करती है तो वह कंपनी को वह सभी जरुरी संपत्ति खरीदने पर निवेश करना होगा जिसके काफी ज्यादा खर्चा हो जायेगा।

2 . Business Process Outsourcing का सबसे बड़ा फ़ायदा Speed है और कोई भी कंपनी अपने कार्य को Outsource करती है तो वह काम कॉफी Speed में होता है क्युकी जिस कंपनी को Contract दिया जाता है उसके पास पहले से ही सभी जरुरी मशीन और Skill Person रहते है जो बहुत जल्दी सभी कार्य को कम्प्लेट कर देते है।

3. जब कोई भी कंपनी अपने कार्यो को Outsourcing करवाती है तो उसे Third Party के द्वारा Skilled manpower मिलता है जिससे कार्य आसानी से और कुशलता पूर्वक कम्पलीट किया जाता है।

4 . Business Process Outsourcing बहुत flexible होता है।

Business Process Outsourcing के नुकसान

1 . Business Process Outsourcing का पहला बड़ा नुकसान Communication Problems क्युकी  client और vendor companies के बिच दुरी रहने के कारण बहुत बार missed messages हो जाता है।

2 . बहुत बार ऐसा होता है की किसी दूसरे देश में BPO करने से दोनों देश के विभिन्न समय क्षेत्र होने के कारण online meetings और communication में बहुत प्रॉब्लम होती है।

3 . BPO करने के बाद दोनों कंपनी में दुरी होने के कारण Control करने में कॉफी प्रॉब्लम होने लगती है।

4 . कंपनी का पर्सनल Data चोरी होने का खतरा होता है।

BPO Job Candidate की योगिता और Skill

दोस्तों में आपको एक बात बता दू की BPO Candidate के लिए कोई स्पेशल Education की जरुरत नहीं परती है सामान्य तोर पर ज्यादातर BPO कंपनी 10 और 12 पास पास Candidate को भी BPO job दे देते है परन्तु बहुत सारी बड़ी B.Tech or B.Com Degrees वाले Candidate की जरुरत परती है।

BPO Jobs के लिए Skill –

दोस्तों अगर आपके पास कोई स्पेशल Education या डिग्री नहीं है फिर भी आप BPO job कर सकते हो। परन्तु अगर आपके पास निचे दिए गए Skill नहीं है तो आप BPO job के लिए Candidate होना बहुत मुश्किल है –

1 . BPO जॉब्स करने के लिए ज्यादा पढ़ाई की आवश्कता नहीं होती है आप 10 या 12 क्लास मैनहो फिर भी आप BPO job कर सकते हो।

2 . दोस्तों अगर आपको BPO job करना चाहते है तो आप Communication Skills  अच्छी होने चाहिए अगर आपकी Communication Skills  अच्छी नहीं है तो आपको BPO job मिलना थोड़ा मुश्किल है।

3 . BPO job Candidate की इंग्लिश अच्छी होने चाहिए। लेकिन अगर आपकी इंग्लिश अच्छी नहीं है फिर भी आप BPO job Candidate हो सकते है क्युकी बहुत सारी BPO Company local भाषा को प्राथमिकता देती है।

4 . BPO job Candidate को basic Computer knowledge , इंटरनेट, Email और M.S.Office का ज्ञान होना चाहिए।

5 . BPO job Candidate को कॉल करने और प्रश्नों के जवाब देने में धैर्य होना बहुत जरुरी है।

6. BPO job Candidate को अलग अलग परिस्थिति में काम करने का धैर्य होना जरुरी है। और मार्किट में बदलाव आने के साथ हे अपने को अपडेट करना बहुत जरुरी है।

7 . दोस्तों बहुत सारी बड़ी-बड़ी BPO कंपनी में job का आवेदन करने के लिए वह B.Tech or B.Com Degrees वाले Candidate वाले को ही जॉब देती है।

दोस्तों अगर आप भी सोच रहे है BPO Job करना तो अगर आपके पास ऊपर दिए गए सभी गुण या Skill आपके पास है तो आप आसानी से BPO job के एग्जाम को Crack कर सकते है।

BPO में क्या काम होता है? (BPO Jobs Name )

Full Form of BPO  BPO में किया काम होता है (BPO Jobs Name )

दोस्तों BPO में जो सबसे आम जॉब कॉल सेण्टर का है और बहुत सारे लोग समझते है की BPO में job करना मतलब Call Center में काम करना परन्तु ऐसा नहीं है BPO में और बहुत सारे काम होते है जो इस प्रकार है-

  • Data Entry
  • Medical BPOs
  • Accounting और Bookkeeping
  • Bilingual Jobs
  • Insurance Jobs
  • survey
  • Call Centers
  • Courier Services

BPO JOB की सैलरी या वेतन

दोस्तों BPO Candidate की सैलरी वैसे तो अलग अलग देश में BPO Candidate की सैलरी अलग होती है परतुं भारत में शुरुआती BPO Candidate की सैलेरी या वेतन 10000 से 15000 रुपया महीना के बीच होती है परतु जैसे-जैसे BPO Candidate का अनुभव बढ़ने लगता है वैसे ही उनकी सैलरी भी बढ़ने लगती है।

और विदेशो में BPO Candidate की सैलरी वैसे तो इंडिया से ज्यादा होती है लगभग 30000 से 40000 प्रति माह के करीब विदेश में BPO Candidate की सैलरी होती है।

BPO कंपनी का नाम

किया आप भी सोच रहे है की आखिर इंडिया में कौन कौन सी (BPO) Business Process Outsourcing कंपनी है तो आप निचे देख सकते है कुछ भारत के टॉप कंपनी है –

ये भी पढ़े –

BPO और Call Center में क्या Diffrent है?

दोस्तों चलिए हम चलते है और जानते है की BPO और Call Center में क्या अंतर है और BPO और कॉल सेण्टर क्या होता है-

Business Process Outsourcing (BPO) का मतलब होता एक कंपनी अपने किसी भी कार्यो को करने के लिए किसे दूसरे कंपनी या service provider को दे देती है जो उस काम को पूरा कर देती है।

Call Center का मतलब किसी भी बिज़नेस या कंपनी के Call और Telephone information को सभालते और handal करते है और कॉल करके या Customer की परेशानी सुनकर उस परेशानी को निवारण करते है। और कंपनी के द्वारा दिए गए इनफार्मेशन को customer या Client के पास पहुंचते है।

परन्तु दोस्तों काफी लोग समझते है की Call सेण्टर का मतलब ही BPO होता है लेकिन ये बिलकुल गलत बात है Call Center का मतलब BPO नहीं होता है।

BPO एक प्रकार की कार्य को Outsourcing करने वाला तरीका है जिसमे Call Center भी आता है और BPO का ही एक हिस्सा Call Center है।

आज हमने क्या पढ़ा (Conclusion)

दोस्तों आज हमने आपको Full Form of BPO( BPO का पूरा नाम ) के साथ साथ बहुत कुछ आपको BPO के बारे में बताया और दोस्तों मुझे पूरा यकीन है आपको ये आर्टिकल्स पढ़ कर BPO के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी और अगर आपको BPO के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो आप मुझे निचे कमेंट में अपना सवाल या सुझाव लिख सकते है।

दोस्तों को शेयर करे

नमस्कार दोस्तों, मैं Kundan Sah, Sabhindimai.net का Technical Author & Founder हूँ. और में अपनी बात करू तो में एक Digital Marketer और Full Time Blogger हूँ। मुझे नयी नयी चीजे सीखना और सिखाने में बहुत अच्छा लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + 18 =